चार दिन पहले ड्यूटी पर तैनात सिपाही की हत्या करने वाले दोनों बदमाशों को पुलिस ने एनकाउंटर में किया ढेर

उत्तर प्रदेश के जालौन में रविवार दोपहर पुलिस ने दो बदमाशों को एनकाउंटर में मार गिराया। दोनों बदमाशों पर 4 दिन पहले यानी 10 मई को ड्यूटी के दौरान सिपाही भेदजीत सिंह की हत्या करने का आरोप है। उरई के फैक्ट्री इलाके में हुई इस मुठभेड़ में इंस्पेक्टर को भी गोली लगी है। जालौन एसपी ईरज राजा ने बताया, “हमें मुखबिर से सूचना मिली थी कि दोनों बदमाश उरई के पास फैक्ट्री एरिया में आने वाले हैं। हम मौके पर पहुंच गए। वहां टीमें बनाकर घेराबंदी की। दोनों बदमाश वहां पहुंचे, तो पुलिस ने रुकने का इशारा किया। लेकिन, बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। इसमें उरई SHO के हाथ पर गोली लगी। जबकि 2 सिपाही बुलेट प्रूफ जैकेट पहने होने की वजह से बच गए।” “इसके बाद पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। गोली लगने से दोनों बदमाश घायल हो गए। दोनों को जिला अस्पताल लाया गया। वहां डॉक्टर ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। मारे गए एक अपराधी का नाम कल्लू अहिरवार है। जबकि दूसरे का नाम रमेश है। दोनों उरई के ही रहने वाले थे।”

SP बोले- सिपाही पर फायरिंग, फिर नुकीली चीज से हत्या की…

एसपी ई. राजा ने बताया कि 9/10 मई की रात अज्ञात बदमाशों ने हाईवे चौकी पर तैनात सिपाही भेदजीत की हत्या कर दी थी। जांच के दौरान पुलिस को कुछ डिटेल्स मिली। इससे आरोपी क्लियर हुए, जिन्होंने घटना को अंजाम दिया था। रविवार को इनके फैक्ट्री इलाके में आने की सूचना मिली थी। उन्होंने बताया कि वारदात की रात भेदजीत को सूचना मिली थी कि ये दोनों बदमाश फैक्ट्री एरिया में लोहा चोरी कर रहे हैं। भेदजीत अपनी चौकी के पास थे, तभी बदमाश दिखाई दिए। उन्होंने पीछा किया, तो बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इस फायरिंग में वह बच गए। इसके बाद बदमाशों ने भेदजीत को पकड़कर भारी हथियार से उन पर हमला करके हत्या कर दी। उनके शरीर पर चोटों के 25 निशान थे। बदमाशों के पास उनका मोबाइल टूटा हुआ मिला है। इसके अलावा, उसका पर्स भी बरामद हुआ है। ये दोनों अपराधी किस्म के थे। पहले भी कई घटनाओं में शामिल रहे हैं। इनके क्रिमिनल रिकॉर्ड का पता लगाया जा रहा है।

एक बदमाश का परिवार गायब, दूसरा 4 दिन से घर नहीं गया था…

फैक्ट्री एरिया में रोडवेज डिपो कार्यालय के पास पुलिस ने एनकाउंटर किया। वहां से करीब एक किमी दूर दोनों बदमाशों का घर है। कल्लू अहिरवार राहिया उरई का रहने वाला था। जबकि दूसरा बदमाश रमेश सरसौखी उरई का रहने वाला था। दोनों के गांव अगल-बगल में हैं। रमेश मजदूरी करता था, जबकि कल्लू दोना-पत्तल बनाने का काम करता था। एनकाउंटर में मारा गया रमेश शादीशुदा था। उसके दो बेटे और 1 बेटी है। रमेश किराए के मकान में रहता था। आसपास के लोगों का कहना है कि रमेश का परिवार 3-4 दिन पहले कहीं चला गया था। कहां गया है? इस बारे में उनको पता नहीं है। वहीं, दूसरे आरोपी कल्लू के पिता ने बताया कि उनका बेटा 4 दिन पहले किसी की शादी में जाने की बात कहकर घर से निकला था। उसके बाद से वापस नहीं आया। उन्होंने कहा, “मेरे दो बेटों में कल्लू छोटा था। उससे ज्यादा बातचीत नहीं होती है। वह रात में जब घर आता था, तब तक मैं सो जाता था। मैं डिपो में सफाई का काम करता हूं। कल्लू की उम्र 22 साल थी।”

भेदजीत का भाई बोला- पुलिस की कार्रवाई से खुश हूं…

मृतक सिपाही भेदजीत के भाई महाजीत ने कहा, “पुलिस की कार्रवाई से खुश हूं। पुलिस ने दोनों हत्यारों को ढेर कर दिया है। ऐसे लोग अपने स्वार्थ के लिए लोगों की हत्या कर देते हैं और झेलना मरने वाले के परिवार को पड़ता है। मेरा बस अब सरकार से यही कहना है कि मेरे भाई को शहीद का दर्जा मिले और उसके परिवार को सहायता मिले। जिससे उनका जीवन सही से चल सके।

“सेना से रिटायर होने के बाद भेदजीत ने पुलिस जॉइन की थी…

भेदजीत उरई कोतवाली की हाईवे स्थित पुलिस चौकी पर ड्यूटी कर रहे थे। तभी रात के करीब डेढ़ बजे संदिग्ध बाइक सवार दिखाई दिए। इस पर सिपाही ने उनके चेहरे पर टॉर्च जलाकर उन्हें रोकने की कोशिश की। इसके बाद बदमाशों ने सिपाही पर हमला कर दिया। नुकीली चीज मारकर उनकी हत्या कर दी थी। सेना से रिटायर होने के बाद भेदजीत सिंह ने पुलिस की नौकरी जॉइन की थी। इससे पहले हत्याकांड के 2 दिन बाद यानी 12 मई को दैनिक भास्कर ने सिपाही की पत्नी सीमा से बात की थी। इस दौरान सीमा ने बताया था, ”हमारी शादी को 23 साल होने वाले थे। कितना अच्छा रिश्ता था हमारा, जो अब भगवान ने खत्म कर दिया है। मेरे पति हमेशा अपने परिवार की चिंता करते थे। हमेशा बच्चों की पढ़ाई के बारे में बात करते थे। जब वो भारतीय सेना में थे, तब बहुत कम ही घर आते थे।”

2018 में सेना से रिटायर हुए थे सिपाही भेदजीत…

पत्नी ने बताया था, ”2018 के आसपास वह सेना से रिटायर हुए, तो नौकरी की तलाश करने लगे। 2019 में उनको यूपी में निकलने वाली पुलिस भर्ती के बारे में पता चला। जिसके लिए उन्होंने एप्लिकेशन डाल दी। उनका सिलेक्शन हो गया और पोस्टिंग जालौन के उरई में की गई थी।” ”बच्चों की पढ़ाई की वजह से मैं चंडीगढ़ में ही रुकी रही। वह जालौन चले गए। वहां से वह अक्सर घर आया करते थे। हम लोग साथ में मथुरा भी जाते थे। बहुत सुखी परिवार था हमारा, लेकिन किसी की ऐसी नजर लगी कि एक पल में सब कुछ खत्म हो गया। मैं तो कुछ करती भी नहीं हूं, जो बच्चों का पालन-पोषण कर पाऊं। अब तो सरकार से ही उम्मीद है हम लोगों को, वही मदद करे।”

बेटी बोली- हमारे पापा को तो किसी ने हमसे छीन लिया…

भेदजीत की बेटी रिया ने रोते हुए बताया था, “पापा ने मेरा और भाई का एडमिशन NDA की कोचिंग के लिए करवा दिया था। वो चाहते थे मैं और भाई दोनों NDA में जाएं, अफसर बनें। वो जब भी घर आते थे, हम लोगों की पढ़ाई में मदद करते थे। हमें सेना के बारे में बताते रहते थे। पापा ने हम लोगों के लिए कभी किसी चीज में कोई कमी नहीं छोड़ी। अब हम किसको अपनी दिक्कत बताएंगे? कौन हमारी सारी परेशानियों को दूर करेगा? हमारे पापा को तो किसी ने हमसे छीन लिया।”जालौन में ड्यूटी पर तैनात एक सिपाही की बाइक सवार बदमाशों ने नुकीले हथियार से हत्या कर दी। सिपाही भेदजीत सिंह उरई कोतवाली की हाईवे स्थित पुलिस चौकी पर ड्यूटी कर रहे थे।

औरंगाबाद में मॉब लिंचिंग का मामला; कार सवार तीन लोगों की हत्या को लेकर 6 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, वीडियो फुटेज से हुई पहचान     |     ट्रेन हादसा होते होते टला, प्लेटफॉर्म के पास मालगाड़ी के पहिए पटरी से उतरे, रेलवे टीम राहत-बचाव में जुटी     |     पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में बावरिया गिरोह के 8 सदस्य को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 6 हुए फरार     |     हत्यारा बना रूम पार्टनर; मामूली सी बात पर युवक की रस्सी से गला घोंटकर हत्या     |     हरणी झील में बड़ा हादसा; नाव पलटने से दो शिक्षकों और 13 छात्रों समेत 15 की हुई मौत      |     सरप्राइज देने के लिए पहाड़ी पर गर्लफ्रेंड को बुलाया, फिर चाकू से गला काटकर कर दी हत्या     |     बीमार ससुर से परेशान बहू ने उठाया खौफनाक कदम गला दबाकर की हत्या, आरोपी महिला को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |     हत्यारों ने हैवानियत की हदें की पार,मां-बेटी की गला रेतकर बेरहमी से हत्या,शव के साथ हुई बर्बरता,शव देखकर कांप गए देखने वाले     |     अजब गजब:जीवित रहते हुए की अपनी तेरहवीं,तेरहवीं में शामिल हुआ पूरा गांव, 2 दिन बाद हुई मौत,हर कोई रह गया दंग     |     Loksabha Election 2024: आईये जाने नगीना लोकसभा सीट का इतिहास, वहां का जातिगत समीकरण और चुनावी आंकडे़     |     Loksabha Election 2024: मेनका के गढ़ से वरुण की छुट्टी, जितिन प्रसाद पर भाजपा का भरोसा, जानिए पीलीभीत सीट का इतिहास…     |     प्रेमी की तय हो गई थी शादी, प्रेमिका का पति सऊदी अरब में करता है काम, दोनों ने ट्रेन से कटकर दी जान     |     दिव्यांग पैदा हुई मासूम, 4 दिन बाद दादी ने गला दबाकर मार डाला, पोते की चाहत में बनी हैवान     |     बाॅलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला खत्म, पुलिस की अंतिम रिपोर्ट को अदालत ने की मंजूर, 2012 में लगा था आरोप     |     यूपी की आठ लोकसभा सीटों पर कल होगा मतदान,80 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला     |     सुर्खियों में जौनपुर, पू्र्व सांसद धनंजय सिंह को सजा के बाद भाजपा नेता की हत्या, पत्नी श्रीकला को टिकट मिलते ही समर्थक का हत्या     |     सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने कैसरगंज से टिकट के सवाल पर दिया जवाब,कहा-होइए वही जो राम रचि राखा     |     अमेठी में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका,राहुल गांधी का करीबी नेता भाजपा में शामिल     |     मेरठ मे जयंत चौधरी की सभा के बाद BJP कार्यकर्ता की पिटाई, Video हुआ वायरल     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9721975000