विज्ञापन
विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें – 9721975000 *

प्रतापगढ़ ग्राम प्रधान और पंचायत विभाग के अधिकारियों के गठजोड़ से गरीबों का आशियाना चढ़ गया भ्रष्टाचार की भेंट

प्रतपगगढ़। केंद्र की मोदी सरकार और सूबे की योगी सरकार भ्रष्टाचार को उखाड़ फेंकने का लाख दावा भले ही कर ले, परन्तु उसे धरातल पर उतार पाना मुश्किल ही नहीं बल्कि नामुमकिन सा लगने लगा है। जनपद प्रतापगढ़ में कुल 17 विकास खंड हैं। सभी विकास खंडों में भ्रष्टाचार का जिन्न आतंक मचाये है। सबसे अधिक चौदहवें और पंद्रहवें वित्त में आने वाले धन में विकास खण्ड अधिकारियों से लेकर पंचायत सेक्रेटरी और प्रधानों द्वारा सभी योजनाओं में डकैती डाली जा रही है। पंचायत सेक्रेटरी और प्रधान जी कहते हैं कि पैसा तो जिले पर बैठे अधिकारी भी माँगते हैं। बिना उन्हें खिलाये हम एक रुपये नहीं हजम कर सकते। ऊपर से नीचे तक भ्रष्टाचार ने अपना ऐसा पैर पसार लिया है कि वह अपना पैर समेटने के लिए तैयार नहीं है। सबको रिश्वत चाहिए। रिश्वत चाहने वाले उसके ऐसे वशीभूत हो चुके हैं कि उन्हें रिश्वत के आगे कुछ दिखाई ही नहीं देता। वह दिन रात्रि रिश्वत के पीछे पागल हो चुके हैं। उन्हें अपने नैतिक पतन से कोई लेनादेना नहीं रहता। धन मिलना चाहिए वह किसी भी रूप में मिले।

इन दिनों जनपद प्रतापगढ़ में मंगरौरा ब्लॉक में विकास खण्ड अधिकारी द्वारा जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है। सूत्रों की बातों पर यकीन करें तो उन्हें सत्तापक्ष नेताओं का आशीर्वाद प्राप्त है। जिससे वह भ्रष्टाचार की गंगा में जमकर डुबकी मार रही हैं। एडीओ पंचायत और पंचायत सेक्रेटरी इनके कमाई के अंग हैं। आईये समझते हैं कि ये सब किस तरह और किस हद तक सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में घपले और घोटाले करते हैं। ताज़ा मामला है विकास खंड के इटवा ग्रामसभा का जहां भ्र्ष्टाचार की गंगा बहती नजर आ रही हैं। इटवा ग्रामसभा में वर्ष- 2020 से लेकर वर्ष- 2022 तक जो आवास आवंटित किए गए, उसमें व्यापक पैमाने पर भ्रष्टाचार किया गया है। पिता-पुत्री व पति पत्नी को आवास आवंटित किया गया है। क्या ऐसा संभव है कि एक ही घर में पिता-पुत्री और पिता-पुत्र को प्रधानमंत्री आवास दिया जा सके, जबकि उसके पास पहले से ही पक्का आवास निर्मित हो।

ऐसा आरोप गाँव के ही रुद्रमणि उपाध्याय ने मुख्यमंत्री सहित जिले के आला अधिकारियों को शिकायती पत्र भेजकर लगाया है कि इटवा ग्रामसभा के निवासी रामधन व शीला देवी पिता व पुत्री हैं।शीला देवी विवाहित हैं और अपने बच्चों के साथ ससुराल में रहती हैं, विवाहिता पुत्री को पिता के गाँव में आवास देना नियम विरुद्ध है। वहीं राम खेलावन व उनकी पत्नी बलवंती को भी आवास आवंटित किया गया है जो की नियम विरुद्ध है। ऐसा इसलिये किया जाता है ताकि अपात्र ब्यक्ति जो धनवान होता है उसका चयन करते ही वह प्रधान सहित पंचायत सेक्रेटरी को मनचाही रकम को अदा कर देता है। पैसा वसूलने के चक्कर में अपत्रोंन को मनमाने तरीके से चयनित करके पीएम आवास आवंटित किया जाता है। इस खेल में ब्लॉक स्तर से लेकर गाँवसभा तक नेटवर्क फैला हुआ है। किसी की हिम्मत नहीं कि कोई भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज बुलंद कर सके। अब रुद्रमणि उपाध्याय अपनी आवाज बुलंद किये हैं। उनका कहना है कि यदि मुख्यमंत्री जी इस भ्रष्टाचार की जाँच नहीं कराते हैं तो वह इस प्रकरण को जनहित याचिका के माध्यम से माननीय हाईकोर्ट के समक्ष ले जाकर भ्रष्टाचारियों को दंड दिलाने का कार्य करेंगे।

हद तो तब हो गई जब पीएम आवास की गाइडलाइंस को दरकिनार करते हुए दूसरे मंजिले पर पीएम आवास बन जाता है और अधिकारियों के पास करने के बाद उसकी सारी किस्तें रिलीज कर दी जाती हैं। ऐसा ही एक मामला शिकायत कर्ता रुद्रमणि उपाध्याय द्वारा उठाया गया है। इटवा गाँव की तैमुलनिशा पत्नी इम्मतियाज अली को भी पीएम आवास दिया गया है, जिनके पास पहले से ही पक्का मकान था। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास का निर्माण दूसरे तल पर कराया है। रुद्रमणि उपाध्याय द्वारा आई सहित मामले की शिकायत मुख्यमंत्री से की गई है। इस भ्रष्टाचार की शिकायत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से तो की ही गई है, साथ ही साथ इसकी प्रतिलिपि मुख्य सचिव ग्राम्य विकास, जिलाधिकारी प्रतापगढ़, मुख्य विकास अधिकारी प्रतापगढ़, जिला पंचायत राज अधिकारी प्रतापगढ़ को भी प्रेषित की गई है। अब इस शिकायत पर मुख्यमंत्री सहित आला अफसरों के कान में जूं रेंगती है या नहीं। क्योंकि मंगरौरा विकास खण्ड पर तैनात खण्ड विकास अधिकारी की पकड़ और रसूख इतना तगड़ा है कि सामान्यतः आम नागरिकों की शिकायत पर उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। तभी तो प्रधानमंत्री आवास में अपात्रों को नियम विरुद्ध पात्र बनाकर उनसे धन वसूल कर बंदरबांट किया जा रहा है।

औरंगाबाद में मॉब लिंचिंग का मामला; कार सवार तीन लोगों की हत्या को लेकर 6 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, वीडियो फुटेज से हुई पहचान     |     ट्रेन हादसा होते होते टला, प्लेटफॉर्म के पास मालगाड़ी के पहिए पटरी से उतरे, रेलवे टीम राहत-बचाव में जुटी     |     पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में बावरिया गिरोह के 8 सदस्य को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 6 हुए फरार     |     हत्यारा बना रूम पार्टनर; मामूली सी बात पर युवक की रस्सी से गला घोंटकर हत्या     |     हरणी झील में बड़ा हादसा; नाव पलटने से दो शिक्षकों और 13 छात्रों समेत 15 की हुई मौत      |     सरप्राइज देने के लिए पहाड़ी पर गर्लफ्रेंड को बुलाया, फिर चाकू से गला काटकर कर दी हत्या     |     बीमार ससुर से परेशान बहू ने उठाया खौफनाक कदम गला दबाकर की हत्या, आरोपी महिला को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |     हत्यारों ने हैवानियत की हदें की पार,मां-बेटी की गला रेतकर बेरहमी से हत्या,शव के साथ हुई बर्बरता,शव देखकर कांप गए देखने वाले     |     अजब गजब:जीवित रहते हुए की अपनी तेरहवीं,तेरहवीं में शामिल हुआ पूरा गांव, 2 दिन बाद हुई मौत,हर कोई रह गया दंग     |     छोटे भाई ने रॉड से हमला कर की बड़े भाई की हत्या; बोला- ‘मां-पापा उसे ज्यादा करते थे प्यार, इसलिए मार डाला     |     आगरा में राहुल गांधी की यात्रा में शामिल हुए अखिलेश यादव, स्वागत के लिए उमड़े कार्यकर्ता     |     सुरक्षाबल व नक्सलियों में हुई मुठभेड़ में तीन नक्सली हुए ढेर, तीन भरमार बन्दूक व सामग्री बरामद     |     INLD के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी की हत्या, बदमाशों ने गले में मारी दो गोलियां, एक सुरक्षाकर्मी की भी हुई मौत     |     पटाखा फैक्ट्री में ब्लास्ट; 4 की मौत, कई लोग घायल, बढ़ सकती है मौत की संख्या     |     महाराष्ट्र के पूर्व सीएम मनोहर जोशी का दिल का दौरा पड़ने से निधन     |     राजा भ‌इया भाजपा से मांग रहे थे दो सीटें,सिर्फ एक पर बनी सहमति,फिर नरोत्तम से हुई मीटिंग     |     किसान आंदोलन में ड्यूटी पर तैनात सब-इंस्पेक्टर की मौत, अबतक 3 पुलिस वालों ने तोड़ा दम, 2 दिन के लिए टला प्रदर्शन     |     चाचा की बेहरमी भतीजे का अपहरण कर प्लास्टिक रस्सी से गला घोंट की निर्मम हत्या, खेत में दफनाया शव     |     विवाह समारोह में फायरिंग; नगर पालिका अध्यक्ष के भाई ने साले की गोली मारकर की हत्या      |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9721975000