पिता को रहा पछतावा बेटी आयुषी को मुखाग्नि देते समय टूटा पिता, काश फिर जिंदा हो जाए बेटी आयुषी

मथुरा। नितेश यादव को अपनी बेटी आयुषी यादव की हत्या के बाद बड़ा पछतावा है। आयुषी के शव के पोस्टमार्टम के बाद राया पुलिस शव को अपने कब्जे में ले गई और शव का अंतिम संस्कार यमुनापार लक्ष्मीनगर में किया गया। हत्यारोपी पिता नितेश यादव ने अंतिम संस्कार किया। इस दौरान पिता की आंखों से आंसुओं की धारा बह रही थी। जुबान पर लड़खड़ाते हुए शब्द कह कर रहे थे कि जिस बेटी को इतने लाड प्यार से पाला उस बेटी की हत्या करने बाद उसे बहुत गहरा आघात लगा है। बता दें कि नितेश यादव ने अपनी बेटी आयुषी के लव मैरिज से नाराज़ होकर गुस्से में लाइसेंसी रिवॉल्वर से दो गोलियां मारकर उसकी हत्या कर दी थी। इसमें आयुषी की मां ब्रजवाला भी शामिल रही।इसके बाद दोनों ने आयुषी के शव को लाल रंग के ट्रॉली बैग में पैक करके अपनी कार से 18 नवंबर तड़के तीन बजे आगरा-दिल्ली हाईवे से वृंदावन होते हुए यमुना एक्सप्रेसवे पर पहुंचे।

कृषि अनुसंधान केंद्र के पास झाड़ियों में सुबह 6.50 पर ट्रॉली बैग को फेंकने के बाद एक्सप्रेसवे होकर वापस दिल्ली लौट गए। हत्यारोपी पिता नितेश ने बताया कि पूरे एक साल बेटी को समझाता रहा समाज में मेरी इज्जत मत उछालो, लेकिन बेटी अपनी जिद पर अड़ी रही। बेटी जवाब देती थी कि अब मैं बालिग हो गई हूं, खुद फैसला ले सकती हूं। पिता ने आगे बताया कि आखिरकार गुस्से में आकर जिन हाथों से बेटी का हाथ पीला करना था उन्हीं हाथों से बेटी की जान ले ली। आयुषी के शव को बांहों में लेकर कई घंटे तक पिता आंसू बहाता रहा। मां बाप ने आयुषी को बड़े लाड प्यार से पाला। आयुषी को इतना प्यार मिला कि वो उम्र के एक पड़ाव पर जाकर किसी और के प्यार के बंधन में बंध गई। इस बंधन को परिजनों ने नहीं स्वीकारा। मॉर्डन कल्चर को अपना कर बीसीए की पढ़ाई करने वाली आयुषी ने मंदिर में शादी कर ली थी।मां ने बहुत समझाया, लेकिन आयुषी नहीं मानी।

हत्यारोपी पिता नितेश आंसू बहाते हुए कहता रहा कि एक बार आयुषी फिर जिंदा होकर उसे पापा-पापा बोले। लगभग 11 घंटे बिताने के बाद नितेश ने ट्रॉली बैग में शव को पैक किया। अपने किए पर पश्चाताप कर रहे नितेश ने कई जगह कार रोकी और वह यह तय नहीं कर पाया कि किस स्थान पर शव को फेंका जाए। दिल्ली से वृंदावन हाईवे तक नितेश सोचता रहा कि शव को कहां फेंके। नितेश को यमुना एक्सप्रेसवे का किनारा समझ में आया और बेटी के शव को फेंक दिया। पूरे रास्ते मां की ममता आंसुओं में बहती रही। आयुषी का अंतिम संस्कार यमुनापार लक्ष्मीनगर पर किया गया। हत्यारोपी पिता नितेश यादव ने मुखाग्नि दी। अंतिम संस्कार में आरोपी मां ब्रजबाला भी शामिल रही। पुलिस अभिरक्षा में हुए अंतिम संस्कार में भाई आयुष शामिल नहीं रहा। प्रभारी निरीक्षक ओमहरि वाजपेयी ने बताया कि आरोपी पिता ने अपनी मृत बेटी आयुषी को मुखाग्नि दी है। उस वक्त केवल ब्रजबाला ही मौजूद रही। भाई आयुष अपने रिश्तेदारों के पास चला गया। 11 वीं का छात्र होने के नाते उस पर किसी ने दबाव नहीं बनाया।

औरंगाबाद में मॉब लिंचिंग का मामला; कार सवार तीन लोगों की हत्या को लेकर 6 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, वीडियो फुटेज से हुई पहचान     |     ट्रेन हादसा होते होते टला, प्लेटफॉर्म के पास मालगाड़ी के पहिए पटरी से उतरे, रेलवे टीम राहत-बचाव में जुटी     |     पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में बावरिया गिरोह के 8 सदस्य को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 6 हुए फरार     |     हत्यारा बना रूम पार्टनर; मामूली सी बात पर युवक की रस्सी से गला घोंटकर हत्या     |     हरणी झील में बड़ा हादसा; नाव पलटने से दो शिक्षकों और 13 छात्रों समेत 15 की हुई मौत      |     सरप्राइज देने के लिए पहाड़ी पर गर्लफ्रेंड को बुलाया, फिर चाकू से गला काटकर कर दी हत्या     |     बीमार ससुर से परेशान बहू ने उठाया खौफनाक कदम गला दबाकर की हत्या, आरोपी महिला को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |     हत्यारों ने हैवानियत की हदें की पार,मां-बेटी की गला रेतकर बेरहमी से हत्या,शव के साथ हुई बर्बरता,शव देखकर कांप गए देखने वाले     |     अजब गजब:जीवित रहते हुए की अपनी तेरहवीं,तेरहवीं में शामिल हुआ पूरा गांव, 2 दिन बाद हुई मौत,हर कोई रह गया दंग     |     गाजियाबाद व कुशीनगर में सड़क हादसा , बकरीद मनाने घर आ रहे परिवार की तीन महिलाओं समेत चार की मौत     |     मामूली विवाद में पति ने प्रेशर कुकर से पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट, बाद में खुद भी किया सुसाइड का प्रयास     |     बकरीदबकरीद के त्योहार की देर शाम मुस्लिम समुदाय के दो पक्षों में रंजिश के चलते जमकर हुआ बवाल ,खूब चले लाठी -डंडे     |     अखिलेश और मायावती फिर आएंगे साथ, 2027 के यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर अफजाल अंसारी का बड़ा दावा     |     दार्जिलिंग ट्रेन हादसे पर सीएम योगी ने जताया दुख, अब तक 15 की मौत     |     हरदोई : मुस्लिम युवक से निकाह के लिए अड़ी युवती की उसके भाईयो ने की हत्या, आरोपी बोला कौमी भरोसे लायक नही     |     पुलिस ने पार की बेरहमी की सारी हदें, हवालात में युवक को रातभर रखा भूखा-प्यासा, सुबह हो गई मौत, थाना प्रभारी और मुंशी निलंबित     |     दूल्हा-दुल्हन की हो रही थी शादी, बीच में पहुंच गया चाचा, बोला- हमको नहीं मिला रसगुल्ला, जमकर चले लाठी-डंडे     |     गंगा में नहाते समय 5 डूबे, सेल्फी लेने के दौरान फिसला पैर, तलाश जारी     |     शराब को लेकर हुई कहासुनी, पिता ने की बेटे की हत्या     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9721975000