एमएलसी चुनाव परिणाम से पहले ही मुख्य विपक्षी पार्टी सपा में भितरघात करने का लगने लगा आरोप, प्रतापगढ़ में एक जिला पंचायत सदस्य को सपा ने पार्टी से छह वर्ष के लिए किया निष्कासित

सपा जिलाध्यक्ष छविनाथ यादव की रिपोर्ट को राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने दी तवज्जों, मंगरौरा प्रथम से जिला पंचायत सदस्य संजय पटेल को प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने तत्काल प्रभाव से छः वर्ष के लिए पार्टी से कर दिया, निष्कासित 

सपा प्रदेशध्यक्ष नरेश उत्तम की नजर अब पार्टी में मौजूद भितरघातियों पर...
प्रतापगढ़ जिलाध्यक्ष छविनाथ यादव की रिपोर्ट पर सपा प्रदेशध्यक्ष नरेश उत्तम ने भितरघातघात करने वाले जिला पंचायत पर छः साल के निष्कासन की कार्रवाई कर दिया साफ संकेत कि पार्टी विरोधी गतिविधि में लिप्त रहने वाले को नहीं छोड़ा जायेगा…

 

प्रतापगढ़। चुनाव हो और जनपद प्रतापगढ़ में सबकुछ शांति से निपट जाए, ऐसा तो हो ही नहीं सकता। लोकसभा चुनाव और जिला पंचायत चुनाव में सपा को प्रतापगढ़ से जोर का झटका धीरे से लगा। विधानसभा में सपा सुप्रीमों प्रतापगढ़ से कम से कम चार सीट जीतने का मंसूबा पाल रखे थे। परन्तु दो पर ही उन्हें संतोष करना पड़ा। विधानसभा चुनाव के परिणाम के बाद सूबे में 36 सीटों पर एमएलसी का चुनाव शुरू हो गया। सत्ताधारी दल भाजपा 9 सीटों पर निर्विरोध करा लेने में सफल रही और 27 सीटों पर चुनाव हुए। उन 27 सीटों में एक सीट प्रतापगढ़ की भी रही जो सपा के लिए बहुत महत्वपूर्ण रही। वर्ष-1998 से प्रतापगढ़ के एमएलसी पद पर राजा भईया ने जिसे चाहा उसे एमएलसी बनाया। चार बार तो उनके खास अक्षय प्रताप सिंह “गोपाल जी” ही एमएलसी रहे और एक बार जब वर्ष-2004 में अक्षय प्रताप सिंह “गोपाल जी” समाजवादी पार्टी के टिकट से सांसद निर्वाचित हो गए तो आनन्द भूषण सिंह “बब्बू राजा” को राजा भईया निर्विरोध एमएलसी निर्वाचित कराया था। यानि पाँच बार के चुनाव में दो बार निर्विरोध तो तीन बार सविरोध चुनाव में राजा भईया का जादू जिले में चला।

एमएलसी चुनाव-2022 के मतदान के बाद ही सपा में भितरघात का आरोप लगना शुरू हो गया है। जनपद में एक जिला पंचायत सदस्य को पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है। यह कार्यवाही समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने यूपी विधान परिषद के चुनाव में हुए भितरघात को देखते हुए की है। बता दे कि मंगरौरा प्रथम से जिला पंचायत सदस्य सपा नेता संजय पटेल को प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने तत्काल प्रभाव से छः वर्ष के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया है। बात अभी यही नहीं खत्म हुई, सपा ने अभी 5 भितरघाती नेताओं को भी चिन्हित किया है। सपा एमएलसी चुनाव में बैकवर्ड ट्रंप कार्ड के रूप में विजय यादव को इसलिए प्रत्याशी के रूप में चुना ताकि पट्टी विधानसभा में पिछड़ी जाति में एकता और मजबूती बनी रहे। उसमें विखराव न आ सके। सपा सुप्रीमों को पता था कि उसका उम्मीदवार धनबल और बहुबल में बहुत कमजोर है, परन्तु उन्हें पिछड़ी जाति पर पार्टी की पकड़ बनाए रखने के लिए विजय यादव पर दांव लगाना पड़ा। चूँकि विधानसभा चुनाव में सात विधानसभा सीटों पर सिर्फ कुंडा में गुलशन यादव को टिकट दिया गया था और प्रतापगढ़ संसदीय सीट पर एक भी यादव को उम्मीदवार नहीं बनाया गया था, जबकि पटेल/कुर्मी/वर्मा जाति से दो उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतरे और संयोग से दोनों सफलता पाकर विधायक बने। 

सपा सुप्रीमों को तो पता ही था कि वह एमएलसी प्रत्याशी विजय यादव को लगड़ी घोड़ी समझ कर उन पर दांव लगाये हैं। परन्तु एमएलसी चुनाव में पार्टी में भितरघात हो और वह सपा सुप्रीमों बर्दाश्त करें, ऐसा नहीं हो सकता। सपा सुप्रीमों अखिलेश यादव अभी से संसदीय चुनाव की तैयारी शुरू कर दिये हैं। उसी परिपेक्ष्य में जनपद प्रतापगढ़ में पार्टी के अंदर भितरघातियों को चिन्हित कर उन पर सपा सुप्रीमों अखिलेश यादव कार्रवाई करने का कार्य शुरू कर दिए हैं। सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और कुंडा विधायक रघुराज प्रताप सिंह राजा भईया से तल्खी के बीच एमएलसी के चुनाव में विजय यादव को बतौर प्रत्याशी मैदान में उतारा। एमएलसी चुनाव प्रचार के दौरान कुछ सपाई नेताओ द्वारा जनसत्ता दल लोकतांत्रिक के प्रत्याशी अक्षय प्रताप सिंह “गोपाल जी” के पक्ष में प्रचार करने की रिपोर्ट सपा जिलाध्यक्ष छविनाथ यादव ने अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को भेजी थी। इस पर सपा नेता मंगरौरा प्रथम से जिला पंचायत सदस्य संजय पटेल को प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने तत्काल प्रभाव से छः साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया। जिलाध्यक्ष छविनाथ यादव ने बताया कि जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव के बाद एमएलसी के चुनाव में भी कई जिम्मेदार पदाधिकारी विरोधी प्रत्याशियों से मिल गए। ऐसे एक और जिला पंचायत सदस्य सहित पांच लोगों को चिह्नित कर साक्ष्य सहित उनकी रिपोर्ट राष्ट्रीय अध्यक्ष को भेजी गई है, अभी संजय पटेल छः साल के लिए निष्कासित किए गए हैं। बाकी के भितरघातियों पर भी जल्द कार्यवाही होगी।

औरंगाबाद में मॉब लिंचिंग का मामला; कार सवार तीन लोगों की हत्या को लेकर 6 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, वीडियो फुटेज से हुई पहचान     |     ट्रेन हादसा होते होते टला, प्लेटफॉर्म के पास मालगाड़ी के पहिए पटरी से उतरे, रेलवे टीम राहत-बचाव में जुटी     |     पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में बावरिया गिरोह के 8 सदस्य को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 6 हुए फरार     |     हत्यारा बना रूम पार्टनर; मामूली सी बात पर युवक की रस्सी से गला घोंटकर हत्या     |     हरणी झील में बड़ा हादसा; नाव पलटने से दो शिक्षकों और 13 छात्रों समेत 15 की हुई मौत      |     सरप्राइज देने के लिए पहाड़ी पर गर्लफ्रेंड को बुलाया, फिर चाकू से गला काटकर कर दी हत्या     |     बीमार ससुर से परेशान बहू ने उठाया खौफनाक कदम गला दबाकर की हत्या, आरोपी महिला को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |     हत्यारों ने हैवानियत की हदें की पार,मां-बेटी की गला रेतकर बेरहमी से हत्या,शव के साथ हुई बर्बरता,शव देखकर कांप गए देखने वाले     |     अजब गजब:जीवित रहते हुए की अपनी तेरहवीं,तेरहवीं में शामिल हुआ पूरा गांव, 2 दिन बाद हुई मौत,हर कोई रह गया दंग     |     Loksabha Election 2024: आईये जाने नगीना लोकसभा सीट का इतिहास, वहां का जातिगत समीकरण और चुनावी आंकडे़     |     Loksabha Election 2024: मेनका के गढ़ से वरुण की छुट्टी, जितिन प्रसाद पर भाजपा का भरोसा, जानिए पीलीभीत सीट का इतिहास…     |     प्रेमी की तय हो गई थी शादी, प्रेमिका का पति सऊदी अरब में करता है काम, दोनों ने ट्रेन से कटकर दी जान     |     दिव्यांग पैदा हुई मासूम, 4 दिन बाद दादी ने गला दबाकर मार डाला, पोते की चाहत में बनी हैवान     |     बाॅलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला खत्म, पुलिस की अंतिम रिपोर्ट को अदालत ने की मंजूर, 2012 में लगा था आरोप     |     यूपी की आठ लोकसभा सीटों पर कल होगा मतदान,80 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला     |     सुर्खियों में जौनपुर, पू्र्व सांसद धनंजय सिंह को सजा के बाद भाजपा नेता की हत्या, पत्नी श्रीकला को टिकट मिलते ही समर्थक का हत्या     |     सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने कैसरगंज से टिकट के सवाल पर दिया जवाब,कहा-होइए वही जो राम रचि राखा     |     अमेठी में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका,राहुल गांधी का करीबी नेता भाजपा में शामिल     |     मेरठ मे जयंत चौधरी की सभा के बाद BJP कार्यकर्ता की पिटाई, Video हुआ वायरल     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9721975000