हाथरस हादसे में जांच समिति ने सौंपी रिपोर्ट, एसडीएम, सीओ और तहसीलदार सहित 6 अधिकारियों पर गिरी गाज

हाथरस। उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के सिंकदराराऊ थाना के फुलर‌ई गांव में सत्संग में भगदड़ से हुई मौत के मामले में दो सदस्यीय जांच समिति ने जांच रिपोर्ट सौंपी है।जांच समिति ने कहा है कि साजिश से इंकार नहीं है,गहन जांच की जरूरत है। हाथरस हादसे के लिए कार्यक्रम आयोजक मुख्य जिम्मेदार है और स्थानीय प्रशासन की भी जवाबदेही तय की गई है। आयोजकों की लापरवाही से हाथरस हादसा हुआ था, भीड़ को आमंत्रण देकर पर्याप्त इंतजाम नहीं किए गए।

ये सामने आया है कि स्थानीय पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों ने आयोजन को गंभीरता से नहीं लिया और वरिष्ठ अधिकारियों को समुचित जानकारी नहीं दी। जांच समिति की रिपोर्ट के आधार पर एसडीएम सिकंद्राराऊ,सीओ सिकंद्राराऊ,तहसीलदार सिकंद्राराऊ, थानाध्यक्ष सिकंद्राराऊ, चौकी इंचार्ज कचौरा और चौकी इंचार्ज पोरा को निलंबित कर दिया गया। हाथरस हादसे की गहन जांच के लिए न्यायिक आयोग भी कार्यवाही शुरू कर चुका है। आयोजकों ने बिना पुलिस वेरिफिकेशन जिन लोगों को अपने साथ जोड़ा, उनसे अव्यवस्था फैली।

बता दें कि जिले के सिकन्दराराऊ थाना क्षेत्र के फुलर‌ई गांव में में बीते मंगलवार को सत्संग में भगदड़ में 123 लोगों की मौत हो गई थी।हादसे के तत्काल बाद गठित एडीजी जोन आगरा और मंडलायुक्त अलीगढ़ की एसआईटी ने 2, 3 और 5 जुलाई को हादसे वाली जगह का निरीक्षण किया था। जांच के दौरान कुल 125 लोगों का बयान लिया गया, जिसमें प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों के साथ आम जनता और प्रत्यक्षदर्शियों का बयान भी लिया गया। इसके अलावा हादसे के संबंध में प्रकाशित समाचार की प्रतियां, स्थलीय वीडियोग्राफी,छायाचित्र,वीडियो क्लिपिंग का संज्ञान लिया गया।

जांच समिति की आख्या के प्रमुख बिंदु

एसआईटी ने प्रारंभिक जांच में चश्मदीद गवाहों और अन्य साक्ष्यों के आधार पर हादसे के लिए कार्यक्रम आयोजकों को मुख्य रूप से जिम्मेदार माना है।

जांच समिति ने अब तक हुई जांच और कार्यवाही के आधार पर हादसे के पीछे किसी बड़ी साजिश से भी इंकार नहीं किया है और गहन जांच की जरूरत बताई है।

जांच समिति ने कार्यक्रम आयोजक तथा तहसील स्तरीय पुलिस व प्रशासन को भी दोषी पाया है।स्थानीय एसडीएम, सीओ, तहसीलदार, इंस्पेक्टर, चौकी इंचार्ज द्वारा अपने दायित्व का निर्वहन करने में लापरवाही के जिम्मेदार हैं।

उप जिला मजिस्ट्रेट सिकन्दराराऊ द्वारा बिना कार्यक्रम स्थल का मुआयना किये आयोजन की अनुमति प्रदान कर दी गई और वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत भी नहीं कराया।

उक्त अधिकारियों द्वारा कार्यक्रम को गंभीरता से नहीं लिया गया और वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत भी नहीं कराया गया। एसआईटी ने संबंधित अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई की संस्तुति की है। उप जिला मजिस्ट्रेट सिकन्दराराऊ, पुलिस क्षेत्राधिकारी सिकन्दराराऊ, थानाध्यक्ष सिकन्दराराऊ, तहसीलदार सिकन्दराराऊ, चौकी इन्चार्ज कचौरा एवं चौकी इन्चार्ज पोरा को शासन द्वारा निलंबित कर दिया गया है।

आयोजकों ने तथ्यों को छिपाकर कार्यक्रम के आयोजन की अनुमति ली। अनुमति के लिए लागू शर्तों का अनुपालन नहीं किया गया। आयोजकों द्वारा अप्रत्याशित भीड़ को आमंत्रित कर पर्याप्त एवं सुचारु व्यवस्था नहीं की गई। न ही कार्यक्रम के लिए स्थानीय प्रशासन द्वारा दी गई अनुमति की शर्तों का पालन किया गया।

आयोजक मंडल से जुड़े लोग अव्यवस्था फैलाने के दोषी पाए गए हैं। इनके द्वारा जिन लोगों को बिना विधिवत पुलिस वेरिफिकेशन के जोड़ा गया, उनसे अव्यवस्था फैली।

आयोजक मंडल द्वारा पुलिस के साथ दुर्व्यवहार किया गया। स्थानीय पुलिस को कार्यक्रम स्थल पर निरीक्षण से रोकने का प्रयास किया गया।

सत्संगकर्ता और भीड़ को बिना सुरक्षा प्रबंध के आपस में मिलने की छूट दी गई। भारी भीड़ के दृष्टिगत यहां किसी प्रकार की बैरीकेटिंग अथवा पैसेज की व्यवस्था नहीं बनाई गई थी और दुर्घटना घटित होने पर आयोजक मंडल के सदस्य घटना स्थल से भाग गए।

औरंगाबाद में मॉब लिंचिंग का मामला; कार सवार तीन लोगों की हत्या को लेकर 6 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, वीडियो फुटेज से हुई पहचान     |     ट्रेन हादसा होते होते टला, प्लेटफॉर्म के पास मालगाड़ी के पहिए पटरी से उतरे, रेलवे टीम राहत-बचाव में जुटी     |     पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में बावरिया गिरोह के 8 सदस्य को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 6 हुए फरार     |     हत्यारा बना रूम पार्टनर; मामूली सी बात पर युवक की रस्सी से गला घोंटकर हत्या     |     हरणी झील में बड़ा हादसा; नाव पलटने से दो शिक्षकों और 13 छात्रों समेत 15 की हुई मौत      |     सरप्राइज देने के लिए पहाड़ी पर गर्लफ्रेंड को बुलाया, फिर चाकू से गला काटकर कर दी हत्या     |     बीमार ससुर से परेशान बहू ने उठाया खौफनाक कदम गला दबाकर की हत्या, आरोपी महिला को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |     हत्यारों ने हैवानियत की हदें की पार,मां-बेटी की गला रेतकर बेरहमी से हत्या,शव के साथ हुई बर्बरता,शव देखकर कांप गए देखने वाले     |     अजब गजब:जीवित रहते हुए की अपनी तेरहवीं,तेरहवीं में शामिल हुआ पूरा गांव, 2 दिन बाद हुई मौत,हर कोई रह गया दंग     |     यूपी में लोकसभा चुनाव परिणाम के डेढ़ माह बाद भी हार पर मंथन जारी, एक दूसरे पर ठीकरा फोड़ने की हो रही कोशिश      |     आतंकी हमले से दहला कश्मीर तो एक्टिव हुए डिफेंस मिनिस्टर राजनाथ सिंह, आर्मी चीफ को दिया बड़ा निर्देश     |     दोस्त की शादी अटैंड करने आए युवक की सड़क हादसे में हुई मौत     |     दर्दनाक सड़क हादसा; एक ही परिवार के 6 लोगों की मौत, 5 लोग हुए घायल     |     मामा की शादी में आई 3 साल की बच्ची की बेरहमी से हत्या, श्मशान पर बिना कपड़ों की मिली लाश     |     दूल्हे ने जयमाला डालते ही दुल्हन को जड़ा थप्पड़, मच गया बवाल     |     लखनऊ के पंतनगर में मकान पर लगे लाल निशान तो गुस्साए लोगों ने घर के बाहर चिपका दी रजिस्ट्री की कॉपी     |     बोरे से मिला महिला का अर्धनग्न शव, पहचान न हो सके इसलिए  तेजाब से जलाया चेहरा     |     कुंडा विधायक राजा भैया के पिता को किया गया हाउस आरेस्ट, मोहर्रम जुलूस पर करने वाले थे यह काम, जानते ही घबरा गई पुलिस     |     भीषण सड़क हादसा; बस को ट्रक ने मारी टक्कर 6 लोगों की मौत, 8 लोग हुए घायल     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9721975000