सोनिया गांधी कांग्रेस संसदीय दल की चुनी गईं अध्यक्ष, राहुल गांधी को लोकसभा में विपक्ष का नेता बनाए जाने की मांग

सोनिया गांधी को कांग्रेस संसदीय दल का अध्यक्ष चुन लिया गया है। पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने संसद के सेंट्रल हॉल में पार्टी नेताओं की बैठक में सोनिया के नाम का प्रस्ताव रखा। गौरव गोगोई और तारिक अनवर ने इसका समर्थन किया। इससे पहले कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक हुई। इसमें कांग्रेस सांसद राहुल गांधी को लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष बनाए जाने का भी प्रस्ताव रखा गया है। सूत्रों के मुताबिक CWC बैठक में यह संकेत भी मिला है कि राहुल वायनाड सीट छोड़कर रायबरेली सीट अपने पास रखेंगे।

दैनिक भास्कर से बात करते हुए कांग्रेस महिला मोर्चा की अध्यक्ष अलका लांबा ने कहा, ‘भ्रष्टाचार के आरोप में केजरीवाल समेत बड़े नेताओं के जेल में होने और स्वाति मालीवाल से मारपीट की वजह से कांग्रेस पार्टी को गठबंधन से नुकसान हुआ। उन्होंने कहा कि पंजाब में हमने AAP के साथ गठबंधन नहीं किया, इसका हमें सीधा फायदा हुआ है।

CWC की मीटिंग 3 घंटे चली, राहुल को नेता प्रतिपक्ष बनाने की मांग…

CWC की मीटिंग दिल्ली के अशोका होटल में करीब 3 घंटे चली। राहुल गांधी को लोकसभा में विपक्ष का नेता बनाने के लिए पार्टी सांसदों ने एक प्रस्ताव भी पारित किया। इस पर राहुल ने कहा, ‘मुझे सोचने का वक्त दीजिए।’ यह पद पिछले 10 साल से खाली है।

10 साल से नेता प्रतिपक्ष का पद खाली…

लोकसभा में पिछले 10 साल से नेता प्रतिपक्ष का पद खाली है। साल-2014 में कांग्रेस को 44 सीटें और साल-2019 में 52 सीटें मिली थीं। भाजपा के बाद सबसे ज्यादा सीटें कांग्रेस को मिली थीं। फिर भी कांग्रेस को नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी नहीं मिली थी। दरअसल, नेता प्रतिपक्ष के पद के लिए किसी भी पार्टी के पास लोकसभा की कुल सीटों का 10 प्रतिशत सीटें होना चाहिए। यानी 543 सीटों में से कांग्रेस को इसके लिए 54 सांसदों की जरूरत होती है। कांग्रेस ने इस बार अपने दम पर 99 सीटें हासिल की हैं।

साल-2014 में विपक्ष की सबसे बड़ी पार्टी होने के बाद भी उस वक्त पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने नेता प्रतिपक्ष का दर्जा देने से इनकार कर दिया था। पिछली लोकसभा में कांग्रेस का प्रदर्शन थोड़ा बेहतर रहा, लेकिन तब भी 54 सीटें नहीं हुईं। अधीर रंजन चौधरी कांग्रेस के नेता बनाए गए, लेकिन नेता प्रतिपक्ष तब भी कोई नहीं हो सका।

कांग्रेस पार्लियामेंट्री पार्टी मीटिंग में सोनिया गांधी को चेयरपर्सन बनाने का प्रस्ताव…

कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कांग्रेस संसदीय दल (सीपीपी) के अध्यक्ष पद के लिए सोनिया गांधी के नाम का प्रस्ताव रखा है।

रमेश चेन्निथला ने कहा- वायनाड या रायबरेली सीट, यह राहुल को ही तय करने दीजिए…

CWC की बैठक के बाद कांग्रेस नेता रमेश चेन्निथला ने कहा, ‘सभी सदस्यों ने मांग की है कि राहुल गांधी विपक्ष के नेता बनें।’ उन्हें रायबरेली या वायनाड में से कौन सी सीट छोड़नी चाहिए इस पर रमेशन ने कहा, यह पूरी तरह से राहुल गांधी को तय करना होगा।

झारखंड कांग्रेस प्रमुख राजेश ठाकुर- आशा है राहुल मान जाएंगे…

झारखंड कांग्रेस प्रमुख राजेश ठाकुर ने कहा, ‘राहुल गांधी को एलओपी बनाया जाना चाहिए, क्योंकि उन्होंने 11,000 किमी की यात्रा की है और जनता की समस्याएं सुनी हैं। ‘न्याय पत्र’ के माध्यम से 25 गारंटी दी गई हैं। हमें उम्मीद है कि राहुल हमारा अनुरोध स्वीकार करेंगे।’

कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा- अगर राहुल एलओपी बनते हैं तो वे ज्यादा होंगे असरदार

कांग्रेस की संसदीय दल की बैठक शुरू…

कांग्रेस की संसद के सेंट्रल हॉल में अब शाम 5.30 बजे से संसदीय दल की बैठक शुरू हो गई है। इसमें संसदीय दल का नेता चुना जाएगा।

कांग्रेस नेता अलका लंबा से भास्कर के पत्रकार याकूत अली के सवाल-जवाब…

सवाल: CWC की बैठक में आज क्या हुआ?
जवाब: कांग्रेस नेताओं ने राहुल गांधी को लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष बनाने की बात कही। इसे सर्वसम्मति से पास कर लिया गया है। हालांकि, राहुल ने इस बारे में सोचने के लिए थोड़ा समय मांगा है। दूसरी ओर यूपी के लोग चाहते हैं कि रायबरेली से राहुल सांसद बने रहें। केरल के लोग चाहते हैं कि वो वायनाड से सासंद बने रहें। राहुल दोनों जगहों के लोगों से बात करेंगे। फिर अपनी लोकसभा सीट करेंगे।

सवाल: दिल्ली में पार्टी का परफॉर्मेंस ठीक नहीं रहा। इस पर क्या बात हुई?
जवाब: यूपी-महाराष्ट्र में हमारा गठबंधन बेहतर नतीजे लाया है। लेकिन दिल्ली-हरियाणा में हमें गठबंधन का फायदा नहीं, बल्कि नुकसान हुआ है। पंजाब में हमने AAP से गठबंधन नहीं किया तो उसका फायदा हुआ। दिल्ली के AAP नेता करप्शन मामले में जेल में हैं। चुनाव के समय ही स्वाति मालीवाल पर हमले का केस भी सामने आया। इन सब चीजों से हमें फायदा नहीं हुआ। इसी वजह से मैंने पार्टी को सुझाव दिया है कि भविष्य में वो दिल्ली-हरियाणा में गठबंधन न करे।

सवाल: अग्निवीर स्कीम बंद करने से लेकर गरीब महिलाओं को हर महीने पैसे देने वाले वादों पर अब कांग्रेस क्या विचार कर रही है?
जवाब: लोगों की उम्मीदें अभी भी हैं कि कांग्रेस सरकार बन जाए तो उन्हें फायदा हो। अगर हम सत्ता में आए तो इन वादों को जरूर पूरा करेंगे। अगर विपक्ष में रहते हैं तो हम इन चीजों को लेकर सवाल करते रहेंगे। नीतीश कुमार से जातिगत जनगणना करवाने को लेकर प्रेशर डालेंगे।

सवाल: क्या भाजपा की ध्रुवीकरण की राजनीति अब बंद होगी?
जवाब: ये पता नहीं है कि ऐसी राजनीति रूकेगी या नहीं। लेकिन ये चीज रूकनी चाहिए। प्रधानमंत्री मटन, मंगलसूत्र से लेकर मुजरा जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया। उन्होंने मुसलमानों को घुसपैठिया कहा। राममंदिर पर वो वोट मांग रहे थे, लेकिन अयोध्या में ही हार गए। इससे पता चलता है कि लोगों ने धर्म के मुद्दे को नकार दिया है और विकास के मुद्दे पर राजनीति चाहते हैं।

अफजल अंसारी ने कहा- केंद्र की सरकार है लंगड़ी…

समाजवादी पार्टी नेता अफजल अंसारी ने कहा- लोकसभा के साथ-साथ विधानसभा के भी उपचुनाव हुए हैं। हम उसमें भी दो सीटों पर जीते हैं। भाजपा वालों के हाल-चाल पूछिए जो 80 में से 80 सीटों का दावा करते थे, आज उनकी हैसियत 33 सीटों में सिमट गई है। सरकार लंगड़ी है जो बैसाखी के सहारे चलेगी। जनता ने अपना रुझान दे दिया है कि वे नरेंद्र मोदी को सत्ता में नहीं देखना चाहती है।

कांग्रेस उत्तर प्रदेश में धन्यवाद निकालेगी यात्रा…

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी धन्यवाद यात्रा निकालेगी। इसमें राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के अलावा पार्टी के वरिष्ठ नेता शामिल होंगे। यह यात्रा 11 जून से 15 जून तक राज्य की सभी 403 विधानसभाओं में निकाली जाएगी। इस दौरान प्रत्येक वर्ग के लोगों का संविधान देकर सम्मान किया जाएगा।

जयराम रमेश ने कहा- शपथ समारोह का निमंत्रण नहीं मिला…

प्रेस कॉन्फ्रेंस में जयराम रमेश ने कहा मनोनीत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह का निमंत्रण नहीं मिला है। सिर्फ अंतर्राष्ट्रीय नेताओं को निमंत्रण गया है। जब हमारे INDIA गठबंधन के नेताओं को निमंत्रण आएगा, अगर आएगा तो उस पर हम विचार करेंगे।

राहुल रायबरेली और वायनाड जाएंगे, वहां के लोगों को भरोसे में लेकर सीट छोड़ने पर फैसला लेंगे…

अलका लांबा ने दैनिक भास्कर से कहा- यूपी के लोग चाहते हैं कि राहुल रायबरेली से सांसद रहें, केरल के लोग चाहते हैं कि वह वायनाड से सांसद रहें। इस पर राहुल ने कहा कि वे वायनाड और रायबरेली दोनों जगह जाएंगे। वहां के लोगों को भरोसे में लेंगे, उसके बाद सीट छोड़ने का फैसला लेंगे। उन्होंने कहा- दिल्ली में AAP से गठबंधन से नुकसान हुआ है।

शाम को चुना जाएगा संसदीय दल का नेता…

जयराम रमेश ने कहा- शाम 5.30 बजे संसद के सेंट्रल हॉल में कांग्रेस के लोकसभा और राज्यसभा सांसदों की बैठक होगी। इस बैठक में कांग्रेस के संसदीय दल का नेता चुना जाएगा।

नीतीश को पीएम पद का ऑफर नहीं दिया…

नीतीश को पीएम पद का ऑफर देने के सवाल पर जयराम रमेश ने कहा- हमने ऐसा कोई ऑफर नहीं दिया। न ही मुझे ऐसे किसी ऑफर की जानकारी है।

प्रदर्शन की समीक्षा के लिए कमेटी बनेगी…

जयराम रमेश ने कहा- जिन राज्यों में हमारा प्रदर्शन खराब रहा है। वहां के लिए एक कमेटी बनाई जाएगी। जो इसके कारणों की जांच करेगी। यह कमेटी कांग्रेस अध्यक्ष को रिपोर्ट सौंपेगी।

CWC की बैठक में राहुल से लोकसभा में नेता विपक्ष बनने का अनुरोध किया गया…

वेणुगोपाल ने कहा- CWC की बैठक में सभी सदस्यों ने राहुल गांधी से लोकसभा में नेता विपक्ष बनने का अनुरोध किया। सभी सदस्यों ने एकमत होकर कहा- राहुल के नेतृत्व में संसद में हम दमदार तरीके से सरकार की गलत नीतियों का विरोध करेंगे।

वेणुगोपाल बोले- हमारे नेताओं को ईडी-सीबीआई से ब्लैकमेल कराया गया…

मीटिंग के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में केसी वेणुगोपाल ने कहा- हमने लोकसभा चुनाव में अपने कैंपेनिंग और अपनी गारंटी स्कीम की समीक्षा की। भाजपा हमारे नेताओं को ईडी-सीबीआई के थ्रू ब्लैकमेल कर रही थी। इसके बावजूद हमने पूरे दमखम से चुनाव लड़ा। हमारे कांग्रेस कार्यकर्ताओं से लेकर टॉप लीडरशिप तक कोई डरा नहीं।

अखिलेश यादव विधानसभा सीट छोड़ेंगे, 36 सांसदों से मीटिंग के बाद किया ऐलान…

कन्नौज से सांसद का चुनाव जीतने के बाद अखिलेश यादव ने अपनी विधानसभा करहल को छोड़ने का निर्णय लिया है। इसकी घोषणा उन्होंने सांसदों से मीटिंग के बाद शनिवार को लखनऊ में की। अखिलेश यूपी विधानसभा में नेता विपक्ष भी हैं। उनके बाद इस पद पर कौन होगा, ये अखिलेश के इस्तीफे के बाद ही तय होगा।

अखिलेश ने 2022 विधानसभा चुनाव मैनपुरी की करहल सीट से लड़ा था। जीत होने के बाद उन्होंने आजमगढ़ के सांसद पद से इस्तीफा दे दिया था। आजमगढ़ में उपचुनाव हुए थे, उसमें भाजपा के दिनेश लाल यादव निरहुआ ने जीत दर्ज की थी।

इस दौरान अखिलेश ने कहा- PDA की रणनीति की जीत होने से देश में नकारात्मक राजनीति खत्म हो गई है। अब समाजवादियों की जिम्मेदारी भी बढ़ गई है। वह जनता की एक एक बात सुनें, उनके मुद्दों को उठाएं, क्योंकि जनता के मुद्दों की जीत हुई है।

अखिलेश बोले- सकारात्मक राजनीति की शुरुआत हुई, ये मुद्दों की जीत…

समाजवादी पार्टी के प्रत्याशियों के साथ बैठक करने के बाद अखिलेश यादव ने कहा- ये जनता के मुद्दों की जीत हुई है। नकारात्मक राजनीति खत्म हुई, सकारात्मक राजनीति शुरू है।

मीटिंग खत्म, प्रेस कॉन्फ्रेंस कुछ देर में…

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक खत्म हो गई है। बैठक में लिए गए निर्णयों की जानकारी कुछ देर में प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी जाएगी।

मीटिंग हॉल में राम मंदिर की तस्वीर…

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक दिल्ली के होटल अशोका के जिस हॉल में हो रही है, उसमें अयोध्या के राम मंदिर की तस्वीर लगी है। सोनिया गांधी जब मीटिंग हॉल से निकलीं तो गेट खुलते ही तस्वीर की झलक दिखी।

खड़गे बोले- हमें जनादेश स्वीकार है…

हम जनमत को विनम्रता से स्वीकार करते हैं। देश की जनता के एक बड़े तबके ने हम पर भरोसा किया है। हम उनका भरोसा बरकरार रखने के लिए सभी संभव प्रयास करेंगे। हमें अनुशासित रहना है। हमें एकजुट रहना है। हमारा काम निरंतर जारी रहेगा, चाहे हम सत्ता में हो या नहीं। हमें 24 घंटे, 365 दिन लोगों के बीच रहना होगा, जनता के मुद्दों को उठाना होगा। कुछ महीनों में महत्वपूर्ण राज्यों के चुनाव होने है, हमें हर कीमत पर विरोधी दलों को परास्त कर, अपनी सरकार बनानी है। लोग बदलाव चाहते है, हमें उनकी ताकत बनना होगा।

खड़गे ने कहा- गठबंधन के साथी संसद के अंदर और बाहर एकजुट रहेंगे…

जहां हम कुछ राज्यों में कांग्रेस पार्टी के अच्छे प्रदर्शन पर खुश हैं, तो वहीं उन राज्यों पर भी खास तौर से गौर करना होगा, जहां कांग्रेस पार्टी की संभावनाओं और अपेक्षाओं के विपरीत परिणाम आए। जहां हमने विधानसभा में अच्छा प्रदर्शन कर सरकार बनाई, लेकिन लोकसभा में उस प्रदर्शन को दोहरा नहीं पाए। इन सभी बातों पर हम जल्दी ही अलग से चर्चा करेंगे। जो तत्कालिक कदम उठाना होगा, वो भी हम उठाएंगे।

इस बैठक में मैं अपने इंडिया गठबंधन के साथी दलों की सराहनाभी खासतौर पर करना चाहूंगा। विभिन्न राज्यों में सभी सहयोगी दलों ने अहम भूमिका निभाई, हर पक्ष ने यथासंभव योगदानदिया। एक स्वर में साथ रहे। इंडिया गठबंधन के साथियों के साथ हम संसद और संसद के बाहर एकजुट होकर और मिलकर काम करेंगे। जिन अहम मुद्दों पर हम चुनाव अभियान में गए वे आम जनता केसरोकार के मुद्दे हैं। इसलिए वे हमेशा हमारी ध्यान में रहेंगे। संसद औ संसद के बाहर जनता के इन सवालों को हम लगातार उठाते रहेंगे।

भारत जोड़ो यात्रा को दिया जीत का क्रेडिट…

मैं कांग्रेस के अपने सभी वरिष्ठ सहयोगियों को धन्यवाद दूंगा जिन्होंने एक टीम की तरह काम किया। ये हमारे सामूहिक प्रयासों का ही असर था कि देशभर में हमारे कार्यकर्तासाथियों ने एक नई उमंग और जोश के साथ काम किया। उन्होने अपने-अपने क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान दिया। हमे यह बात हमेशा याद रखनी है कि परिश्रम और संकल्प से हम बड़े से बड़े विरोधी को मात दे सकते है। यहां मैं इस बात का भी खास उल्लेख करना चाहूंगा कि जहां-जहां से भारत जोड़ो यात्रा और भारत जोड़ो न्याय यात्रा गुजरी, वहां पर कांग्रेस पार्टी के वोट प्रतिशत और सीटों में बढ़ोतरी हुई।

मणिपुर जहां से न्याय यात्रा शुरू हुई, वहां हम दोनों सीटें जीते। नागालैंड, असम, मेघालय जैसे उत्तर-पूर्व के कई राज्यों में हमे सीटें मिली। महाराष्ट्र में हम सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरे। देशभर में कांग्रेस पार्टी को लोकतंत्र और संविधान बचाने के लिए लोगों का अपार समर्थन मिला। यही नहीं, SC, ST, पिछड़े वर्ग, अल्पसंख्यक, और ग्रामीण क्षेत्रों में कांग्रेस पार्टी की सीटों में वृद्धि हुई। हमें आगे यह प्रयास करना है कि शहरी मतदाताओं के बीच हम अपना प्रभाव बनाए और इन इलाकों में भी पार्टी को मजबूत करें।

खड़गे ने सोनिया, राहुल और प्रियंंका का आभार जताया…

खड़गे बोले- मैं सोनिया गांधी को भी धन्यवाद देना चाहूंगा, जिन्होंने चुनाव की तैयारियों, गठबंधन की बैठकों में बढ़-चढ़कर भाग लिया और अपने लंबे अनुभव के आधार पर हम सब का मार्गदर्शन किया। मैं राहुल गांधी को भी बधाई देना चाहूंगा, जिन्होंने संविधान, आर्थिक गैरबराबरी, बेरोजगारी और सामाजिक न्याय और सौहार्द्र जैसे मसलों को जन-जन का मुद्दा बना दिया।

यह राहुल के नेतृत्व में दो साल पहले 4 हजार किलोमीटर लंबी भारत जोड़ो यात्रा और फिर 6,600 किलोमीटर लंबी भारत जोड़ो न्याय यात्रा का फल है, जिसकी मदद से हमें जनता से जुड़ने औरउनकी समस्याओं, सरोकारों, और आकांक्षाओं को जानने में मदद मिली है। इसी आधार पर कांग्रेस पार्टी ने अपना चुनावी अभियान तैयार किया। प्रियंका को खास तौर पर बधाई देना चाहूंगा जिन्होंने अमेठी और रायबरेली के साथ-साथ देश के अन्य हिस्सों में भी जोरदार प्रचार किया।

खड़गे बोले- सभी कार्यकर्ताओं की मेहनत को बधाई…

 

CWC की बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष खड़गे ने कहा- 18वीं लोक सभा चुनाव के बाद हमारी पहली कार्यसमिति की बैठक में आप सभी का स्वागत है। कांग्रेस कार्यसमिति देश-भर में फैले कांग्रेस पार्टी के नेताओं और करोड़ों कार्यकर्ताओं का धन्यवाद करती है, जिन्होंने पिछले कुछ महीनों में अथक परिश्रम किया। मैं आपकी दृढ़ इच्छाशक्ति, संकल्प और परिश्रम के लिए बधाई देता हूं। जनता ने हम में विश्वास व्यक्त कर के तानाशाही शक्तियों और संविधान विरोधी ताकतों को कड़ा जवाब दिया है। हिंदुस्तान के मतदाताओं ने बीजेपी के 10 साल की विभाजनकारी, नफरत और ध्रुवीकरण की राजनीति को खारिज किया है। कांग्रेस कार्यसमिति कांग्रेस के सभी नव-निर्वाचित सांसदों को बधाई देती है, जिन्होंने विपरीत परस्तिथियों में चुनाव लड़कर जीत हासिल की। उन्हें 18वीं लोकसभा का सदस्य बनने पर शुभकामनाएं।

थरूर बोले- राहुल को नेता विपक्ष बनना चाहिए…

केरल की तिरुवनंतपुरम सीट से कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा- राहुल गांधी को नेता विपक्ष की जिम्मेदारी स्वीकार करनी चाहिए।

बैठक में गले में हाथ डालकर पहुंचे राहुल-प्रियंका…

राहुल गांधी कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में अपनी बहन प्रियंका गांधी के साथ पहुंचे। राहुल प्रियंका के गले में हाथ डालकर पहुंचे। चुनाव परिणाम के बाद राहुल ने यूपी में कांग्रेस की बड़ी जीत का श्रेय अपनी बहन प्रियंका को ही दिया था।

प्रमोद कुमार बोले – कुछ दिनों में गिर जाएगी मोदी सरकार…

कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा- चुनाव के बाद हमारी कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक होती है, जो रिजल्ट की समीक्षा करती है। राहुल गांधी का सांसद के तौर पर यह 5वां कार्यकाल है। वह सीनियर सांसद हैं, उन्हें संसदीय दल का नेता होना चाहिए। पीएम मोदी नीतीश कुमार और चंद्रबाबू नायडू पर निर्भर हैं। आप देखिएगा कि कुछ दिनों में उनकी सरकार ऐसी गिरेगी कि जहां बची-कुची है वो भी चली जाएगी।

कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक शुरू…

दिल्ली में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक शुरू हो गई है। इसमें सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी समेत अन्य नेता मौजूद हैं।

अयोध्या के सपा सांसद को जेड प्लस सुरक्षा देने की मांग…

अयोध्या से जीते सपा सांसद अवधेश प्रसाद को जेड प्लस सुरक्षा देने की मांग उठी है। सपा छात्रसभा के राष्ट्रीय महासचिव मनोज पासवान ने नवनिर्वाचित सांसद की जान को खतरा बताते हुए अपर मुख्य सचिव गृह को पत्र लिखा है।

भूपेश बघेल बोले- उम्मीद है राहुल संसदीय दल के नेता बनें…

राहुल गांधी को नेता विपक्ष चुने जाने वाली मांग पर छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा- ये संसदीय दल का विशेषाधिकार है। वो लोग तय करेंगे। उम्मीद है कि वे राहुल गांधी को ही चुनेंगे।

सोनिया, राहुल, प्रियंका CWC की बैठक के लिए रवाना हुए…

कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में शामिल होने के लिए सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी रवाना हो चुके हैं। तीनों एक साथ सोनिया के घर 10 जनपथ से निकले।

AAP नेता ने कांग्रेस नेता सुरजेवाला-अरोड़ा पर भीतरघात का आरोप लगाया…

 हरियाणा में कांग्रेस के साथ गठबंधन पर लड़ी आम आदमी पार्टी (AAP) ने हार का ठीकरा कांग्रेस के सिर मढ़ दिया है। कुरुक्षेत्र सीट पर गठबंधन उम्मीदवार AAP के सुशील गुप्ता इस चुनाव में भाजपा के नवीन जिंदल से हार गए। हार के दो दिन बाद ही AAP ने कैथल में AAP के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अनुराग ढांडा ने प्रेस कान्फ्रेंस कर हार के लिए कांग्रेस नेताओं पर भीतरघात के आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा- रणदीप सुरजेवाला ने भीतरघात किया, इस कारण गठबंधन प्रत्याशी कैथल विधानसभा से 17000 वोटों से पीछे रह गया। खुद सुरजेवाला के बूथ से सुशील गुप्ता हार गए। थानेसर में अशोक अरोड़ा पिछ्ले विधानसभा चुनाव में 500 वोट से हारे थे। मगर अबकी बार थानेसर से सुशील गुप्ता 18000 वोट से हार गए। ये सब इत्तफाक नहीं हो सकता। कुरुक्षेत्र के गठबंधन के प्रत्याशी रहे सुशील गुप्ता ने AAP नेता अनुराग ढांडा के बयान को निजी बयान बताया है। उन्होंने कहा- इससे AAP का कोई भी लेना-देना नहीं है।
सपा कार्यालय पर पोस्टर: सबके अखिलेश, अयोध्या के अवधेश…

समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय में बैठक बुलाई है। बैठक में पार्टी के सभी सांसद और उम्मीदवार मौजूद रहेंगे। पार्टी कार्यालय के बाहर अखिलेश यादव की तस्वीर और ‘सबके अखिलेश, अयोध्या के अवधेश’ के नारे के साथ पोस्टर लगाए गए हैं

उद्धव के घर के पास लगे पोस्टर, लिखा- राजतिलक की करो तैयारी… एक अकेला सब पर भारी….

शिंदे गुट ने उद्धव ठाकरे के घर के पास हाईवे पर पोस्टर लगवाए हैं। इसमें PM मोदी की फोटो के साथ लिखा गया है- राजतिलक की करो तैयारी… एक अकेला सब पर भारी।मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की पार्टी शिवसेना ने पार्टी में हुए बगावत के बाद महायुति के साथ मिलकर पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ा था। 15 सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ने वाली एकनाथ शिंदे की पार्टी शिवसेना को कुल 7 सीटों पर जीत हासिल हुई थी।कुछ दिन पहले मातोश्री के बाहर BJP नेता, पूर्व केंद्रीय मंत्री और नवनिर्वाचित सांसद नारायण राणे का भी पोस्टर लगाया गया था। पोस्टर में उन्हें कोंकण का किंग बताया गया था।

अयोध्या जीतने वाले सपा सांसद बोले-यहां से मोदीजी भी हारते…

‘चर्चा तो PM नरेंद्र मोदी के अयोध्या से चुनाव लड़ने की हो रही थी। हम भी खुश थे कि अब अच्छा समय आएगा कि मोदी जी यहां से चुनाव लड़ें। हम जानते थे कि जनता मेरे साथ है। इस बार पीएम भी अयोध्या से लड़ते तो चुनाव हार जाते।’ ये हैं अवधेश प्रसाद, अयोध्या के नए सांसद। सपा से चुनाव लड़ते हुए इन्होंने भाजपा को हरा दिया। दैनिक भास्कर से उन्होंने कहा- मेरे रोम-रोम में राम बसे हैं। भाजपा वालों ने देशवासियों को राम मंदिर के नाम पर गुमराह किया, इसलिए अयोध्या की जनता ने उनका अहंकार तोड़ दिया। अवधेश प्रसाद ने अयोध्या को ट्रोल करने वालों से कहा- ऐसे लोगों का दिल कमजोर है, मर्यादा पुरुषोत्तम राम की धरती पर लोकतंत्र की मर्यादा को उन्हें स्वीकार करना चाहिए।

सामना के संपादकीय में शिवसेना का नई मोदी सरकार पर और BJP पर निशाना…

नरेंद्र मोदी पहली बार जब 2014 में सत्ता में आए तब उन्होंने ‘कांग्रेस मुक्त भारत’ का नारा बुलंद किया। 2024 में उसी कांग्रेस ने मोदी के घमंडी सीने का गुब्बारा फोड़ दिया है। कांग्रेस ने पटखनी मारकर भाजपा को छिन्न-भिन्न कर दिया। भाजपा कम से कम नौ राज्यों से निष्कासित हो गई है। भाजपा वहां खाता नहीं खोल सकी। तमिलनाडु जैसे बड़े राज्य में भाजपा को एक भी सीट नहीं मिली। पंजाब एक महत्वपूर्ण राज्य है। इस राज्य में भी भाजपा खाता नहीं खोल पाई। मेघालय, मणिपुर, नागालैंड, सिक्किम जैसे सीमावर्ती राज्यों में भाजपा का प्रदर्शन शून्य है। पुड्डुचेरी और चंडीगढ़ में भी भाजपा नहीं बची है। (अर्थात मध्य प्रदेश सहित बारह राज्यों में कांग्रेस की हालत ऐसी ही दयनीय है।)

उत्तर प्रदेश जैसे राज्य में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने मिलकर भाजपा को ‘आधे’ राज्य से साफ कर दिया। महाराष्ट्र में तो भाजपा पर मुंडन कर खुद का ही श्राद्ध करने की नौबत शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस ले आई है। देश में इस गणित पर नजर डालें तो ‘कांग्रेस मुक्त भारत’ का नारा साफ तौर पर खो गया है। मोदी-शाह के गुजरात में कांग्रेस ने अपना खाता खोला और कई सीटों पर कांग्रेस उम्मीदवारों ने भाजपा उम्मीदवारों को पसीना-पसीना कर दिया है। मोदी कांग्रेस का योगदान स्वीकार करने को तैयार नहीं थे। मोदी की नई भाजपा कहती थी कि आजादी की लड़ाई के दौरान देश की प्रगति में कांग्रेस कहीं नहीं थी, लेकिन इस बार कांग्रेस ने सौ सीटों का आंकड़ा पार करके मोदी के तर्क को गलत साबित कर दिया।

मोदी की तरह भाजपा अध्यक्ष डॉ. नड्डा ने ये भी ऐलान किया था कि अब से देश में सिर्फ भाजपा होगी और हम क्षेत्रीय पार्टियों का अस्तित्व खत्म कर देंगे, लेकिन देखिए वक्त ने उनसे वैसा ही बदला लिया। भाजपा ने अपना बहुमत खो दिया और मोदी को नीतिश कुमार, चंद्रबाबू नायडू, चिराग पासवान आदि क्षेत्रीय दलों के समर्थन से खिचड़ी सरकार बनानी पड़ रही है। उन्होंने अपने भाषण में कहा कि जब मोदी संघ प्रचारक के तौर पर काम कर रहे थे तो उन्हें ‘खिचड़ी’ बहुत प्रिय थी। अब उन्हें कुछ समय तक सिर्फ खिचड़ी ही खानी पड़ेगी। लोकसभा नतीजों से पहले नड्डा ने हुंकार भरी थी, ‘हमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की जरूरत नहीं है। अब हम मोदी टॉनिक लेकर आत्मनिर्भर और मजबूत हो गए हैं।’ लेकिन नतीजा ये हुआ कि मोदी टॉनिक कमजोर पड़ गया और भाजपा को संघ के कदम पर याचक बनकर खड़ा होना पड़ा।

मोदी और शाह ने जो भी अस्वाभाविक कृत्य किया, उसका उन पर ही उल्टा असर हुआ। पिछले कुछ दिनों से मोदी-शाह दंड बैठक कर रहे हैं, लेकिन हार उनके काले चेहरों पर साफ दिख रही है। मोदी कांग्रेस, शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, तृणमूल कांग्रेस को खत्म करने निकले थे, लेकिन मोदी ऐसा नहीं कर सके और ये पार्टियां और अधिक मजबूती के साथ सामने आईं। मोदी ने अपने प्रचार अभियान में ऐसी भाषा का प्रयोग किया कि शरद पवार भटकती आत्मा हैं और उद्धव ठाकरे नकली संतान हैं, लेकिन उसी भटकती आत्मा और नकली संतान ने महाराष्ट्र में भाजपा के ‘पिंड’ को कौवों के साथ उड़ा दिया और बहुमत गवां चुकी मोदी की आत्मा, क्षेत्रीय दलों के पीपल पर लटकती नजर आ रही है।

चिराग पासवान की ‘लोजपा’ को अमित शाह ने तोड़कर चिराग के चाचा को सौंप दी। निशान और पार्टी गवां कर खड़े हुए चिराग! आज उसी चिराग के टेके पर मोदी सत्ता स्थापित कर रहे हैं। यही मोदी की नीति है। कल वे कांग्रेस पार्टी की प्रशंसा करना शुरू कर देंगे और सत्ता बरकरार रखने के लिए जरूरत पड़ने पर सोनिया गांधी के दरवाजे पर खड़े होंगे। मोदी सौ फीसदी बिजनेसमैन हैं और बिजनेसमैन सिर्फ अपना फायदा देखता है। अमित शाह ने आंध्र जाकर तेलुगु देशम को खत्म करने की बात कही थी। और ऐसा भी कहा था कि चंद्रबाबू को ‘NDA’ में कभी स्वीकार नहीं किया जाएगा। खुद नीतीश बाबू ने आरोप लगाया था कि अमित शाह नीतिश कुमार की पार्टी को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं। आज मोदी-शाह को सत्ता के लिए उसी नीतीश कुमार के चरणामृत का प्राशन करना पड़ा।

मोदी ने इस तरह का हौवा निर्माण किया कि सत्ता में आने पर कांग्रेस मुसलमानों को आरक्षण देगी, लेकिन चंद्रबाबू खुद मुस्लिम समुदाय को आरक्षण देने के पक्ष में हैं और इसकी मांग कर रहे हैं। तो क्या मोदी ने चंद्रबाबू की मांग मान ली है? यह सवाल उठता है। सरकार बनाने के लिए बहुमत के आंकड़े तक पहुंचते-पहुंचते मोदी-शाह थक गए। मोदी का घमंड उतर गया। मोदी अब अपने मुंह से हिंदुत्व का ‘हिं’ भी नहीं निकाल पाएंगे। जैसा मोदी ने तय किया वैसा कुछ नहीं हुआ। क्योंकि मोदी की कथनी और करनी सब झूठ थी। उनका तप और ध्यान दिखावा था। मोदी ने सत्ता के लिए पहले पार्टियां तोड़ीं, अब समझौते किए। क्योंकि ‘कांग्रेस मुक्त भारत’ बनाने के चक्कर में आधा भारत ‘भाजपा मुक्त’ हो चुका है और मोदी का घमंड बैसाखियों पर लटका हुआ है। ‘इंडिया’ ने ‘बहुमत मुक्त भाजपा’ इस सत्य को सच कर दिया। फिर भी मोदी के लोगों का दावा है कि दुनियाभर से बधाई संदेश आ रहे हैं। यह आश्चर्य की ही बात है!

सुबह 11 बजे शुरू होगी बैठक…

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक दिल्ली के होटल अशोका में सुबह 11 बजे शुरू होगी। मीटिंग में हारी गई सीटों की समीक्षा होगी, इसके लिए सभी प्रदेश अध्यक्षों को भी मीटिंग में बुलाया गया है। चुनावों की समीक्षा के बाद आगे की रणनीति पर भी चर्चा होगी। इसके बाद दोपहर 1 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस में मीटिंग की जानकारी दी जाएगी। 5:30 बजे कांग्रेस के सभी लोकसभा और राज्यसभा सांसदों की बैठक संसद के सेंट्रल हॉल में होगी। शाम सात बजे होटल अशोका में डिनर होगा।

महाराष्ट्र के निर्दलीय सांसद का कांग्रेस और I.N.D.I.A ब्लॉक को समर्थन देने का ऐलान…

महाराष्ट्र के सांगली से निर्दलीय चुनाव जीतने वाले विशाल पाटिल ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे से मुलाकात की। पाटिल ने कांग्रेस और I.N.D.I.A ब्लॉक को समर्थन देने का ऐलान किया।

कमलनाथ बोले- नीतीश-चंद्रबाबू पर नजर है…

कमलनाथ ने दिल्ली में सोनिया गांधी से उनके आवास पर मुलाकात की। बाहर निकलने के बाद कमलनाथ ने कहा- हम चंद्रबाबू नायडू और नीतीश कुमार पर नजर बनाए हुए हैं कि वे क्या कर रहे हैं।

मोदी को तीसरी कसम लेने दीजिए, हम चौथी कसम बाद में लेंगे: राउत…

शिव सेना (उद्धव गुट) के नेता संजय राउत ने कहा- मोदी जी बहुत बुजुर्ग नेता हैं। भगवान के अवतार हैं। काशी पुत्र, गंगा पुत्र हैं। उनके पास बहुमत नहीं है, फिर भी उनका 240 का आंकड़ा बड़ा है। हमने कहा कि पहले आप सरकार बना लो, फिर हम बना लेंगे। उन्होंने राष्ट्रपति भवन में सरकार बनाने का दावा पेश किया है। उनकी तीसरी कसम लेने की इच्छा है, फिर हम चौथी कसम ले लेंगे। इस सवाल पर कि चंद्रबाबू और नीतीश के आने से आपका कुछ हो सकता है, राउत बोले- तीसरी कसम तो पूरी होने दो। इसके बाद चौथी कसम की बात आएगी।

AAP बोली- गठबंधन लोकसभा चुनाव के लिए था, विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेंगे…

दिल्ली के मंत्री गोपाल राय ने कहा कि I.N.D.I.A. ब्लॉक लोकसभा चुनाव के लिए बनाया गया था। विधानसभा चुनाव से इसका कोई लेना-देना नहीं है। आम आदमी पार्टी (AAP) दिल्ली का विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी।

औरंगाबाद में मॉब लिंचिंग का मामला; कार सवार तीन लोगों की हत्या को लेकर 6 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, वीडियो फुटेज से हुई पहचान     |     ट्रेन हादसा होते होते टला, प्लेटफॉर्म के पास मालगाड़ी के पहिए पटरी से उतरे, रेलवे टीम राहत-बचाव में जुटी     |     पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में बावरिया गिरोह के 8 सदस्य को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 6 हुए फरार     |     हत्यारा बना रूम पार्टनर; मामूली सी बात पर युवक की रस्सी से गला घोंटकर हत्या     |     हरणी झील में बड़ा हादसा; नाव पलटने से दो शिक्षकों और 13 छात्रों समेत 15 की हुई मौत      |     सरप्राइज देने के लिए पहाड़ी पर गर्लफ्रेंड को बुलाया, फिर चाकू से गला काटकर कर दी हत्या     |     बीमार ससुर से परेशान बहू ने उठाया खौफनाक कदम गला दबाकर की हत्या, आरोपी महिला को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |     हत्यारों ने हैवानियत की हदें की पार,मां-बेटी की गला रेतकर बेरहमी से हत्या,शव के साथ हुई बर्बरता,शव देखकर कांप गए देखने वाले     |     अजब गजब:जीवित रहते हुए की अपनी तेरहवीं,तेरहवीं में शामिल हुआ पूरा गांव, 2 दिन बाद हुई मौत,हर कोई रह गया दंग     |     कांग्रेस विधायक के बेटे ने की 64 करोड़ की ठगी; रौब नहीं आया काम, घर में घुसी पुलिस      |     भाई ने बहन को किसी लड़के के साथ देखने पर कुल्हाड़ी से वार करके उतारा मौत के घाट     |     लिव-इन पार्टनर ने महिला की गला घोंटकर की हत्या, दोनों पहले से थे शादीशुदा     |     गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर मामले में कोर्ट का बड़ा फैसला, पुलिस अफसरों पर चलेगा अब हत्या का मुकदमा     |     आर‌ओ-एआर‌ओ पेपर लीक कांड का मास्टर माइंड राजीव नयन मिश्रा को इलाहाबाद HC से मिली जमानत     |     नेपाल के काठमांडू में प्लेन क्रैश,18 की मौत, उड़ान भरने के दौरान रनवे पर फिसलने से हुआ हादसा     |     एएमयू कैंपस में फायरिंग,दो कर्मचारियों को लगी गोली,पकड़े गए हमलावर     |     बच्चों सहित स्कूल की बस को सीज करने वाले एआरटीओ पर अनुशासनात्मक कार्रवाई, आरआई निलंबित     |     यूपी में नौ आईएएस और पांच पीसीएस अफसरों का तबादला, फिरोजाबाद और कानपुर नगर के बदले सीडीओ     |     अखिलेश यादव की सपा नेताओं को चेतावनी,भाजपा नेताओं की नो एंट्री,न करें उनकी पैरवी     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9721975000