पूर्व मंत्री मोती सिंह के सबसे चहेते ब्लॉक प्रमुख सुशील कुमार सिंह के गिरोह में शामिल साथी अजय उर्फ टक्कू सिंह द्वारा असलहे का किया गया प्रदर्शन, फोटो सोशल मीडिया में हुई वायरल

ब्लॉक प्रमुख सुशील कुमार सिंह द्वारा संतोष सिंह निवासी- बीबीपुर और अजय उर्फ टक्कू सिंह निवासी-चरैया के नाम बिना कब्जा एग्रीमेंट कराकर बेश कीमती भूमि और भवन पर जबरन कब्जा करने का गोरखधंधा किया जाता है। अब अजय उर्फ टक्कू सिंह के असलहे के साथ प्रदर्शन करने की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। पट्टी कोतवाली पुलिस क्या अजय उर्फ टक्कू सिंह के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की हिम्मत जुटा पाती है अथवा नहीं…

असलहे का प्रदर्शन करना मना है, परन्तु रसूखदारों द्वारा असलहे के प्रदर्शन के मामले में पुलिस महकमें को साँप सूंघ जाता है। देश में कहने के लिए कानून सबके लिए बराबर है। परन्तु हकीकत में ऐसा नहीं है। यदि होता तो सबके साथ कानून के मुताविक कार्यवाही की जाती। ये बात हम यूं ही नहीं कह रहे हैं, इसके कहने के पीछे ठोस और स्पष्ट कारण है। पट्टी विधानसभा के बाबा बेलखरनाथधाम के चरैया गाँव निवासी अजय उर्फ टक्कू सिंह की असलहा के साथ प्रदर्शन करने की एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। अभी तक उस फोटो का संज्ञान पट्टी कोतवाल नहीं ले सके।

अभी सामान्य ब्यक्ति द्वारा असलहे के साथ प्रदर्शन की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई होती तो वह सलाखों के पीछे पहुँच गया होता, परन्तु अजय उर्फ टक्कू सिंह का सम्बन्ध बाबा बेलखरनाथ धाम के ब्लॉक प्रमुख सुशील कुमार सिंह से है और वह उनके लिए जमीन कब्जाने से लेकर क्षेत्र में आतंक पैदा करके धन वसूली तक का कार्य करते हैं। चूँकि बाबा बेलखरनाथ धाम के ब्लॉक प्रमुख सुशील कुमार सिंह पूर्व मंत्री मोती सिंह के सबसे चहेते ब्लॉक प्रमुखों में से हैं। पूरा क्षेत्र जानता है कि सुशील कुमार सिंह को बाबा बेलखरनाथ धाम से निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख बनाने वाले कोई और नहीं बल्कि पूर्व मंत्री मोती सिंह ही हैं।

सूत्र तो यहाँ तक बताते हैं कि आसपुर देवसरा में कमलाकान्त यादव नाम के प्रमुख हैं, सारा कार्य बाबा बेलखरनाथ धाम के ब्लॉक प्रमुख सुशील कुमार सिंह ही देखा करते हैं। वहीं पट्टी में ब्लॉक प्रमुख पूर्व मंत्री मोती सिंह के सगे भतीजे राकेश कुमार सिंह उर्फ पप्पू हैं और पूर्व मंत्री मोती सिंह अपनी राजनीतिक पारी की जहाँ से शुरूआत किये थे, उस मंगरौरा में ब्लॉक प्रमुख पद पर पूर्व मंत्री मोती सिंह के इकलौते बेटे राजीव प्रताप उर्फ नंदन सिंह को ब्लॉक प्रमुख पद पर निर्विरोध कराने में अपने पद और प्रतिष्ठा को पूर्व मंत्री मोती सिंह पूरी तरह दांव पर लगा दिया था तब जाकर बेटे को निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख बना सके थे।

वर्तमान में पूर्व मंत्री मोती सिंह के सबसे लाडले प्रमुख के रूप में सुशील कुमार सिंह ही हैं। सुशील कुमार सिंह के आगे इकलौता बेटा और सगा भतीजा भी फीका पड़ जाता है। सुशील कुमार सिंह की धमक के आगे सब बौने होते जा रहे हैं। क्षेत्र में लोगों की जुबान पर ये बात निकलने लगी है कि पूर्व मंत्री मोती सिंह के न रहने पर उनका राजनीतिक उत्तराधिकारी कहीं सुशील कुमार सिंह ही न हो जाये। पूर्व मंत्री मोती सिंह जिस तरह क्षेत्र में बाबा बेलखरनाथ धाम के ब्लॉक प्रमुख सुशील कुमार सिंह के कारनामों को नजरंदाज कर रहे हैं, उससे तो यही लगता है कि सुशील कुमार सिंह के पास पूर्व मंत्री मोती सिंह की कोई कमजोर नस दबी हुई है, तभी वह यह सब बर्दाश्त कर रहे हैं। बाबा बेलखरनाथ धाम के ब्लॉक प्रमुख सुशील कुमार सिंह के सभी कारनामों से पूर्व मंत्री मोती सिंह की छवि धूमिल हो रही है।

बाबा बेलखरनाथ धाम के ब्लॉक प्रमुख सुशील कुमार सिंह सहित पांच साथियों पर पट्टी कोतवाली में अपराध संख्या- 0251/2023 आईपीसी की धारा- 386, 419, 420 व 506 के तहत गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। पट्टी कोतवाली में ब्लॉक प्रमुख सुशील कुमार सिंह सहित उनके पाँच गुर्गों पर मुकदमा लिखा जाना यह सिद्ध करता है कि पूर्व मंत्री मोती सिंह के इशारे पर ही उपरोक्त मुकदमा दर्ज हुआ है। क्योंकि पूर्व मंत्री मोती सिंह की छवि लगातार ब्लॉक प्रमुख सुशील कुमार सिंह धूमिल करने में जुटे थे, जिसके नुकसान का आंकलन पूर्व मंत्री मोती सिंह को अब हुआ है। चरैया गाँव निवासी अजय उर्फ टक्कू सिंह और बीबीपुर निवासी संतोष सिंह की बात करें तो बाबा बेलखरनाथ धाम के ब्लॉक प्रमुख सुशील कुमार सिंह इन्हीं दोनों के नाम पर बिना कब्जा एग्रीमेंट कराकर जबरन कब्जा करने का कार्य खुलेआम किया जा रहा है। 

औरंगाबाद में मॉब लिंचिंग का मामला; कार सवार तीन लोगों की हत्या को लेकर 6 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, वीडियो फुटेज से हुई पहचान     |     ट्रेन हादसा होते होते टला, प्लेटफॉर्म के पास मालगाड़ी के पहिए पटरी से उतरे, रेलवे टीम राहत-बचाव में जुटी     |     पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में बावरिया गिरोह के 8 सदस्य को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 6 हुए फरार     |     हत्यारा बना रूम पार्टनर; मामूली सी बात पर युवक की रस्सी से गला घोंटकर हत्या     |     हरणी झील में बड़ा हादसा; नाव पलटने से दो शिक्षकों और 13 छात्रों समेत 15 की हुई मौत      |     सरप्राइज देने के लिए पहाड़ी पर गर्लफ्रेंड को बुलाया, फिर चाकू से गला काटकर कर दी हत्या     |     बीमार ससुर से परेशान बहू ने उठाया खौफनाक कदम गला दबाकर की हत्या, आरोपी महिला को पुलिस ने किया गिरफ्तार     |     हत्यारों ने हैवानियत की हदें की पार,मां-बेटी की गला रेतकर बेरहमी से हत्या,शव के साथ हुई बर्बरता,शव देखकर कांप गए देखने वाले     |     अजब गजब:जीवित रहते हुए की अपनी तेरहवीं,तेरहवीं में शामिल हुआ पूरा गांव, 2 दिन बाद हुई मौत,हर कोई रह गया दंग     |     Loksabha Election 2024: आईये जाने नगीना लोकसभा सीट का इतिहास, वहां का जातिगत समीकरण और चुनावी आंकडे़     |     Loksabha Election 2024: मेनका के गढ़ से वरुण की छुट्टी, जितिन प्रसाद पर भाजपा का भरोसा, जानिए पीलीभीत सीट का इतिहास…     |     प्रेमी की तय हो गई थी शादी, प्रेमिका का पति सऊदी अरब में करता है काम, दोनों ने ट्रेन से कटकर दी जान     |     दिव्यांग पैदा हुई मासूम, 4 दिन बाद दादी ने गला दबाकर मार डाला, पोते की चाहत में बनी हैवान     |     बाॅलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी के खिलाफ छेड़छाड़ का मामला खत्म, पुलिस की अंतिम रिपोर्ट को अदालत ने की मंजूर, 2012 में लगा था आरोप     |     यूपी की आठ लोकसभा सीटों पर कल होगा मतदान,80 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला     |     सुर्खियों में जौनपुर, पू्र्व सांसद धनंजय सिंह को सजा के बाद भाजपा नेता की हत्या, पत्नी श्रीकला को टिकट मिलते ही समर्थक का हत्या     |     सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने कैसरगंज से टिकट के सवाल पर दिया जवाब,कहा-होइए वही जो राम रचि राखा     |     अमेठी में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका,राहुल गांधी का करीबी नेता भाजपा में शामिल     |     मेरठ मे जयंत चौधरी की सभा के बाद BJP कार्यकर्ता की पिटाई, Video हुआ वायरल     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9721975000